Samsung ने Galaxy S8 और Galaxy S8+ के लिए ओरेओ अपडेट देना फिर से शुरू किया

0

सैमसंग ने अपने डिवाइसों को एंड्राइड ओरेओ अपडेट देने में थोड़ा समय लगा दिया है क्योकि अभी तक सिर्फ सैमसंग गैलेक्सी S8 ही एकमात्र फ़ोन है जिसको ये अपडेट मिला है। लेकिन अपडेट रोल-आउट को पिछले हफ्ते ही अचानक रोक दिया गया जिसका कारण कंपनी ने एक बग बताया जिसकी वजह से डिवाइस अचानक री-बूट हो जाती थी।(Read in English)

कंपनी द्वारा इस प्रॉब्लम को हल कर लिया गया है और पुनः एंड्राइड ओरेओ अपडेट को गैलेक्सी S8 डिवाइस के लिए शुरू कर दिया है।

नए फर्मवेयर वर्जन G950FXXU1CRB7 और G955XXU1CRB7 को क्रमश:गैलेक्सी S8 और गैलेक्सी S8+ के लिए रोल-आउट कर दिया है। अगर आप पहले से ही एंड्राइड ओरेओ चला रहे है अपने फ़ोन पर तो यह अपडेट आपके लिए 530MB का होगा। जो अभी भी अपने फ़ोन में एंड्राइड नोगत बेस्ड सॉफ्टवेर चला रहे है उनके लिए इसका साइज़ कुछ ज्यादा हो सकता है।

यह अपडेट लॉग साफ़ साफ़ दिखता है की फर्मवेयर को नयी डेट (19 फरवरी) और सिक्यूरिटी पैच को 1 फरवरी(पुराने अपडेट की तरह) डेट दी हुई है। अपडेट लॉग में बदलाव होना साफ़ बताता है की अपडेट की स्टेबिलिटी पहले से बेहतर हुई है जिसका मतलब है की री-बूट की प्रॉब्लम अब हल हो गयी है।

यह भी पढ़े: Smasung Galaxy S9 और S9+ होंगे Flipkart Exclusive: टीज़र पेज हुआ लाइव

अभी यह रोल-आउट सिर्फ जर्मनी में शुरू किया गया है, लेकिन आप जल्दी ही इसके अन्य बाजारों में भी शुरू होने की उम्मीद कर सकते है।

सैमसंग का पहला एंड्राइड ओरेओ पर चलने वाली डिवाइस सैमसंग गैलेक्सी S9/S9+ होगी . इस दोनों ही डिवाइस को लेकर काफी लीक्स और रिपोर्ट आ चुकी है और साउथ कोरियाई कंपनी अपने इन फ्लैगशिप फ़ोनों को 25 फरवरी, 2018 को पेश करेगा।

Source

Smasung Galaxy S9 और S9+ होंगे Flipkart Exclusive: टीज़र पेज हुआ लाइव

0

सैमसंग 25 फरवरी को अपने बहुप्रतीक्षित फ्लैगशिप स्मार्टफोन को पेश करेगी जिनका नाम सैमसंग गैलेक्सी S9 और S9+ होगा। लेकिन लांच से पहले ही फ्लिपकार्ट ने एक टीज़र पेज पेश कर दिया है जिसपर लिखा है “9OnFlipkart”, जिस से यह सुनिश्चित हो जाता है की सैमसंग के यह दोनों फ्लैगशिप फोन भारत में इसी प्लेटफार्म पर उपलब्ध होंगे।(Read in English)

फ्लिपकार्ट के टीज़र पेज पर आपको सैमसंग द्वारा जारी की गयी ‘reimagine camera’ विडियो के साथ-साथ एक GIF और एक बैनर इमेज भी दी गयी है जिसपर लिखा है ” 25.02.2018 को आ रहा है अपडेट के लिए जुड़े रहे”।

सैमसंग गैलेक्सी S9 और S9+ के इतने सारे लीक्स, रिपोर्ट, रेंडर समाने आ चुके है जिनसे इन दोनों ही फोनों के अधिकतर सभी स्पेसिफिकेशन पता लग चुके है। रेंडर और लाइव इमेज के द्वारा यह भी साफ़ हो चूका है की इन फोन का डिज़ाइन अपने पुराने साथियों से अलग नहीं होगा .

दोनों ही फोनों की खासियत कैमरा होगा जिसको कंपनी ‘reimagine camera” टेगलाइन के साथ पेश कर रही है। फोटोग्राफी के लिए 12MP का ड्यूल कैमरा दिया जायेगा जो ऑप्टिकल-इमेज-स्टेबिलाइजेशन के साथ आएगा। यह 720p HD रेसोलुशन पर 960fps की स्लो-मो विडियो रिकॉर्डिंग की सुविधा भी देता है .

S9 की लीक हुई इमेज से पता चलता है की यह फ़ोन ड्यूल स्टीरियो स्पीकर्स के साथ आएगा और हार्डवेयर की बात करे तो फ़ोन में पहली बार स्नैपड्रैगन 835 चिपसेट दिया जा सकता है। लेकिन भारत में यह फ़ोन Exynos 9810 प्रोसेसर के साथ लांच किया जा सकता है।

अगर चल रही सभी अफवाहे और रिपोर्ट सच साबित होती है तो यह फ़ोन अपने ग्लोबल लांच (16 मार्च) के साथ ही भारत में भी उपलब्ध हो जायेगा आपको इन्तजार नहीं करना पड़ेगा। हम उम्मीद करते है की सैमसंग अपने इन फ्लैगशिप फ़ोनों के लिए प्री-बुकिंग ऑफर की भी घोषणा कर सकता है।

9 Expected Samsung Galaxy S9 and S9+ Features That Make Them Exciting

Google Reply द्वारा होंगे अब स्मार्ट-रिप्लाई: Whatsapp, Facebook और अन्य Messaging Apps पर

0

Google Allo एप में होने वाली स्मार्ट-प्रेडिक्शन आपको याद है? अगर हां तो अब वो सर्विस आपको सभी प्रचलित मेसेजिंग एप पर गूगल की नयी एप के द्वारा प्राप्त हो सकती है। इस नवीनतम प्रोडक्ट का नाम है Reply। यह अपने आप गूगल के predicitve reply algorithm द्वारा गूगल मेसेजिंग ऐप के अलावा व्हाट्सप्प, ट्विटर, और फेसबुक मैसेंजर पर भी काम करने की अनुमति देता है।(Read in English)

आज ये नवीनतम ऐप APK Mirror पर लीक हुई है जिसको आप डाउनलोड करके अपने हिसाब से यूज़ कर सकते है।  ऐप को अपने गूगल अकाउंट से लिंक करना पड़ेगा। हमने अपने रेडमी MI A1 इस एप को डालकर देखा की यह ऐप हमारे लिए क्या नयी सुविधा पेश करती है।

यह भी पढ़े: Google Pay App: अब एंड्राइड प्लेटफार्म पर भी उपलब्ध

कैसे काम करती है Reply App?

ऐप को काम करने के लिए कुछ परमिशन चाहिए होंगी जैसे बेहतर रिजल्ट के लिए आपको अपनी लोकेशन की परमिशन देनी होगी ताकि यह ऐप आपके ऑफिस और घर से आपकी दूरी का अनुमान लगा सके तथा जल्दी से उत्तर दे सके की आप कब तक घर या ऑफिस पहुंचने वाले है। अतिरिक्त ये आपके कैलेंडर के अनुसार आपके हॉलिडे के बारे में भी जवाब दे सकती है।

लोकशन पता लगाने से यह आप इसका भी अनुमान लगा सकती है की आप ड्राइविंग कर रहे है या बाइक-राइडिंग ताकि वह आटोमेटिक रिप्लाई द्वारा जवाब दे सके की यूजर अभी बिजी है। यहाँ पर आपको कुछ और विकल्प जैसे ‘on a train’, ‘walking’, ‘sleeping’, and ‘during a meeting’ भी मिलते है लेकिन यह आप पता नहीं लगा सकती की आप सो रहे है या मीटिंग में है। गूगल ने यह फीचर सिर्फ इसलिए दिया है की जान सके की कितने लोग इन् ऑप्शन को सेलेक्ट करके इनमे इंटरेस्ट दिखाते है।

यह ऐप लोकेशन की मदद से पता लगा सकती है की आप ड्राइविंग कर रहे या नहीं और अगर आप ड्राइविंग कर रहे है तो यह डिवाइस फ़ोन को Do Not Disturb मोड पर सेट करके आटोमेटिक रिप्लाई करने लगेगी।  आटोमेटिक रिप्लाई की शुरुआत एक रोबोट के इमोजी के साथ होगी ताकि मेसेज पढ़ने वाले को पता लग जाये की ये आटोमेटिक रिप्लाई है।

हमारी फर्स्ट-इम्प्रेशन के अनुसार, Google रिप्लाई एप्लिकेशन ने हाँ, नहीं और शायद, जैसे संक्षिप्त उत्तरों के संदेशों के साथ ठीक काम किया या आटोमेटिक लोकेशन-बेस्ड संदेश,और आटोमेटिक अवकाश रेस्पॉन्डर्स के साथ भी काफी अच्छा काम किया है। इसके अलावा, ऐप में 2 भाषाओ में सन्देश का उत्तर देने की भी क्षमता है, जो ऐप को यूज़ करने के योग्य बनाता है।

Google Reply App को कैसे प्राप्त करे?

अभी ये ऐप एंड्राइड मैसेज(SMS), फेसबुक मैसेंजर, स्काइप, ट्विटर, और व्हाट्सप्प पर कार्य कर रही है। लेकिन यह ऐप अभी तक प्ले स्टोर में आधिकारिक तौर पर लॉन्च नहीं किया गया है। यदि आप इस ऐप का उपयोग करना चाहते है तो आप इसको APKMirror वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते है और इसका इस्तेमाल कर सकते है।

5G Internet is Not Just About Speed: Here’s Everything you need to know

सैमसंग ला सकता है अपने OLED टीवी वापस: रिपोर्ट

0

ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार सैमसंग अपने OLED टीवी टेक्नोलॉजी को दोबारा से मार्किट में ला सकता है। वर्ष 2015 में कंपनी ने इस टीवी को छोड़ दिया था क्योकि OLED पेनल्स की लागत काफी ज्यादा थी। इस टेक की कमी को पूरा करने के लिए कोरियाई कंपनी सैमसंग ने 4K-Ultra HD LCD पेनल्स की तरफ अपना ध्यान लगाया था।(Read in English)

लेकिन हाल ही की कुछ रिपोर्ट्स से पता लगता है की सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के वाईस-चेयरमैन ली जे-योंग (Lee Jae-Yong) ने दोबारा से इस तरफ ध्यान देते हुए OLED टीवी डिपार्टमेंट को रि-स्टोर करने के निर्देश दिए है। ली ने यह आर्डर कंपनी की वर्तमान स्थिति को देखने के बाद ही दिया है जो शायद एक अच्छा फैसला साबित हो सकता है।

यह भी पढ़े: 5 बेस्ट Xiaomi Redmi Note 5 विकल्प जिनपर आप विचार कर सकते हैं

OLED TV पर फिर विचार क्यों?

सैमसंग ने जब OLED टीवी के प्रोडक्शन को बंद किया तो सबसे ज्यादा फायदा LG को हुआ क्योकि साउथ कोरिया में सिर्फ LG ही अकेली कंपनी थी जो OLED टीवी का प्रोडक्शन कर रही थी। LG ने इस मौके का फायदा उठाया और OLED पेनल्स और प्रोडक्ट में काफी अच्छा इवेस्टमेंट किया। जिसका ताज़ा उदाहरण यही है की 2020 तक LG अपने OLED बिज़नस में लगभग 18.8 बिलियन डॉलर का इन्वेस्टमेंट कर चुकी होगी।

दूसरी तरफ, सैमसंग ने अपने ग्राहकों का OLED टेक्नोलॉजी से ध्यान हटाने के लिए अपनी नयी QLED टीवी टेक्नोलॉजी को बढावा देना शुरू कर दिया। कंपनी ने कहा की यह टेक्नोलॉजी मोबाइल से बड़ी किसी भी डिवाइस के लिए उपयुक्त नहीं है। यहाँ कंपनी द्वारा वजह यह बताई गयी की इन OLED पैनल के लाइट-डायोड से ऊर्जा का उत्सर्जन किसी भी सामान्य LED के बराबर ही होता है जो लाभप्रद नहीं है।

यह भी पढ़े: Xiaomi BlackShark गेमिंग स्मार्टफ़ोन Snapdragon 845 SoC के साथ देखा गया

इसी क्रम में सैमसंग ने अपने टीवी में बेहतर QLED डिस्प्ले देना शुरू कर दिया और अपने OLED को सिर्फ मोबाइल फ़ोन और स्मार्टवॉचेस तक ही सीमित रखा।

लेकिन अब आई रिपोर्ट के अनुसार सैमसंग अपने OLED टेक्नोलॉजी की तरफ दुबारा रुख कर रही है। etnews वेबसाइट के आनुसार, सैमसंग जल्द ही अपने QD-OLED टेक्नोलॉजी युक्त टीवी के साथ बाज़ार में आ सकता है, जो क्वांटम डॉट के द्वारा कलर-बेनिफिट्स और ब्राइटनेस में काफी लाभ देगी।

यह जानना काफी रोचक होगा की सैमसंग कब और कैसे अपने OLED टीवी टेक्नोलॉजी के साथ बाज़ार में आएगा। लेकिन यहाँ ध्यान देना होगा की पुराने बिज़नस में वापसी करने का मतलब यह नहीं है की कंपनी अपने QLED टीवी पेनल्स पर ध्यान देना बंद कर देगी।

9 Android P Features: Exciting Changes Coming to the Next Android Version

Xiaomi BlackShark गेमिंग स्मार्टफ़ोन Snapdragon 845 SoC के साथ AnTuTu पर देखा गया

0

रेडमी नोट 5 और रेडमी नोट 5 प्रो को भारतीय बाजार में लांच करने के बाद, शाओमी अब अपने नए स्मार्टफोन में ब्लैकशार्क टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके गेमिंग स्मार्टफोन के बाजार में शामिल होना चाह रही है। एक साथ दोनों कम्पनियाँ एक गेमिंग स्मार्टफ़ोन पर काम कर रही है जो Antutu पर देखा गया है। यहाँ उल्लेखनीय है कि शाओमी कंपनी में प्रमुख हिस्सेदारों में से एक है।(Read in English)

यह भी पढ़े: आगामी 2018 में 15,000 रुपए से कम कीमत में 7 बेहतरीन स्मार्टफोन

Antutu के अनुसार, ‘ब्लैकशार्क’ एक बहुत ही शानदार और पावरफुल गेमिंग स्मार्टफोन होगा। यह बेंचमार्क साइट से पता चला है की ये स्मार्टफोन क्वालकॉम स्नैपड्रगन 845 चिपसेट के साथ आ सकता है। जिसके साथ-साथ आपको एड्रीनो 630 जीपीयू और 8GB रैम का विश्वसनीय कॉम्बिनेशन भी दिया जायेगा। Antutu पर उपस्थित स्पेसिफिकेशन से हम उम्मीद लगा सकते है की यह फ़ोन आपको 2160 x 1080 रेजोलुशन वाली FHD+ डिस्प्ले के साथ मिलेगा जिसके रिफ्रेश रेट के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं है।

फ़ोन का थोड़ा नेगिटिव पॉइंट इसकी सिर्फ 32GB इंटरनल स्टोरेज होना हो सकता है। क्योकि गेमिंग फ़ोन में हम उम्मीद करते है की 64GB या 128GB इंटरनल स्टोरेज होनी चाहिए। उम्मीद कर सकते है की इसमें मेमोरी कार्ड स्लॉट भी दिया जा सकता है।

अधिकांश 2018 फ्लैगशिप स्मार्टफोनों की तरह, सॉफ्टवेयर के लिए एंड्राइड ओरेओ दिया जायेगा। ब्लैकशार्क टेक्नोलॉजी युक्त गेमिंग फ़ोन बेंचमार्क पर 2,70,680 स्कोर प्राप्त करता है जो काफी प्रभावशाली है। अगर हाल में लीक हुई जानकारी पर विश्वास करे तो MWC 2018 में लांच होने वाले सैमसंग गैलेक्सी S9+ की तुलना में भी काफी अच्छा Antutu स्कोर है।

कुछ रिपोर्ट के अनुसार इस डिवाइस में ‘एविएशन लेवल कूलिंग सिस्टम” को जगह दी जाएगी, लेकिन यह अभी काफी दूर की बात है।

Xiaomi Redmi Note 5 Pro Quick Review: Is it the perfect mid-range phone?

 

5 बेस्ट Xiaomi Redmi Note 5 विकल्प जिनपर आप विचार कर सकते हैं

0

शाओमी के जिस फ़ोन का काफी इन्तजार किया जा रहा था वो रेडमी नोट 5 आखिरकार लांच हो गया है। कंपनी द्वारा ऑल-राउंडर के टैग के साथ लांच हुआ यह फ़ोन शाओमी के सबसे कामयाब स्मार्टफोन रेडमी नोट 4 का अगला अपग्रेडेड वर्ज़न है जिसने वास्तव में दूसरे फ़ोनों के लिए कॉम्पिटिशन बहुत मुश्किल कर दिया था।(Read in English)

रेडमी नोट 5 में सबसे बड़ा बदवाल 18:9 रेश्यो के डिस्प्ले का होना है, रेडमी नोट 4 में एक यही फीचर नहीं दिया गया था। इस नए डिस्प्ले पैनल के साथ यह फ़ोन अगले कुछ महीने के लिए तो अपनी कीमत के हिसाब से सबसे बेस्ट फ़ोन बना रह सकता है।

लेकिन अगर आप सोच रहे की बस एक डिस्प्ले में बदलाव काफी नहीं है और इसी कीमत में आप किसी और फ़ोन के विकल्प के बारे में सोच रहे है तो तो आपको इन विकल्पों पर विचार करना चाहिए:

टॉप 5 Redmi Note 5 के विकल्प

  1. Xiaomi Mi A1
  2. Infinix Hot S3
  3. Xiaomi Redmi Note 5 Pro
  4. Vivo V7
  5. Asus Zenfone 3

1. Xiaomi Mi A1

शाओमी रेडमी नोट 5 का सबसे पहला विकल्प शाओमी का ही Mi A1 है जो इस बजट में बहुत ही बेहतरीन फ़ोन है। हार्डवेयर की बात करे तो दोनों ही फ़ोन लगभग समान है दोनों में ही स्नैपड्रगन 625 प्रोसेसर, 4GB रैम, और 64GB स्टोरेज शामिल है।

Mi A1, रेडमी नोट 5 को सॉफ्टवेयर और कैमरा डिपार्टमेंट में थोड़ा पीछे छोड़ देता है क्योकि यह आपको स्टॉक एंड्राइड के साथ मिलता है जो अब ओरेओ में अपडेट करने का विकल्प भी देता है। और वही रियर-साइड में दिया गया ड्यूल कैमरा अपने सेगमेंट का सबसे अच्छा ड्यूल कैमरा सेटअप है।

Mi A1 से संबंधित लेख

डिस्प्ले: 5.5-इंच FHD IPS | प्रोसेसर: स्नैपड्रगन 625 SoC | रैम: 4GB | स्टोरेज: 64GB | सॉफ्टवेयर: एंड्राइड 7.1.2 | रियर कैमरा: 12MP + 12MP | फ्रंट कैमरा: 5MP | वजन: 165g | माप: 155.4 x 75.8 x 7.3mm | बैटरी: 3080mAh

Mi A1 की न्यूनतम कीमत: 12,999 रुपए

Xiaomi Mi A1 की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • स्टॉक एंड्राइड
  • प्रीमियम डिज़ाइन
  • विश्वसनीय परफॉरमेंस
  • फ़ास्ट चार्जिंग

 

कमियाँ

  • औसत बैटरी लाइफ
  • थोड़ा चिकना

 

2. Infinix Hot S3

ट्रान्ससिजन होल्डिंग की ऑफलाइन ब्रांड इंफिनिक्स का लक्ष्य भारतीय बाजार में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहा है। यह अपने किफायती हॉट एस3 में लेटेस्ट-ट्रेंड फीचर और एंड्राइड ओरेओ पेश करता है जो इसकी खासियत है। फ़ोन में 5.65-इंच की डिस्प्ले, अच्छा डिज़ाइन, स्नैपड्रगन 430 और 4GB रैम भी दी गयी है।

फ़ोन में दिया गया 20MP सेल्फी-कैमरा इस फ़ोन का मुख्य आकर्षण है। लॉच के समय में कंपनी ने ये वादा किया था की फ़ोन में OTA अपडेट के द्वारा जल्दी ही फेस अनलॉक फीचर भी दिया जायेगा। अगर आप 10,000 रुपए की कीमत में एक अच्छा सेल्फी फ़ोन चाहते है तो Infinix Hot S3 एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

सम्बंधित लेख:

डिस्प्ले: 5.65-इंच HD+ IPS LCD | प्रोसेसर: स्नैपड्रगन 430 SoC | रैम: 3GB/4GB | स्टोरेज: 32GB/64GB | सॉफ्टवेयर: एंड्राइड 8.0 | रियर कैमरा: 13MP | फ्रंट कैमरा: 20MP | वजन: 150g | माप: 153 x 72.85 x 8.4mm | बैटरी: 4000mAh

न्यूनतम कीमत: 8,999 रुपए / 10,999 रुपए

Infinix Hot S3 की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • बढ़िया बैटरी बैकअप
  • विश्वसनीय परफॉरमेंस
  • एंड्राइड ओरेओ
  • समर्पित कार्ड स्लॉट

 

कमियाँ

  • डिस्प्ले क्वालिटी
  • ऑडियो क्वालिटी

3. Xiaomi Redmi Note 5 Pro

यदि आपकी लिस्ट में परफॉरमेंस सबसे ऊपर है तो रेडमी नोट 5 प्रो आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प रहेगा। नोट 5 प्रो, नोट 5 के साथ ही लांच किया गया था। यह अपने साथ अधिकतर सभी फीचर को एक किफायती दाम पर जोड़ता है जो रेडमी की खासियत रही है और इस प्राइस सेगमेंट के लिए काफी अच्छा विकल्प है।

यह स्मार्टफोन पॉवरफुल स्नैपड्रगन 636 SoC के साथ पेश किया गया है।  रेडमी नोट 5 प्रो में आपको ड्यूल कैमरा और 20MP का सेल्फी कैमरा दिया गया है जिसका आउटपुट भी काफी अच्छा आ रहा है। शाओमी अपने इस फ़ोन में 6GB रैम का भी विकल्प दिया है।

संबंधित लेख:

डिस्प्ले: 5.99-इंच (18:9) FHD+ IPS | प्रोसेसर: स्नैपड्रगन 625/636 SoC | रैम: 4GB/6GB | स्टोरेज: 64GB | सॉफ्टवेयर: MIUI 9 | रियर कैमरा: 12MP/12MP+5MP | फ्रंट कैमरा: 5MP/20MP | वजन: 181g | माप: 156.5 x 75.3 x 7.6mm | बैटरी: 4000mAh

न्यूनतम कीमत: 13,999 रुपए / 16,999 रुपए

Xiaomi Redmi Note 5 Pro खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • बेहतरीन बैटरी बैकअप
  • विश्वसनीय परफॉरमेंस
  • आकर्षक सेल्फी
  • अच्छा डिस्प्ले

 

कमियाँ

  • डिज़ाइन
  • हाइब्रिड स्लॉट

 

4. Vivo V7

रेडमी नोट 5 का सबसे बड़ा नेगिटिव पॉइंट इसका डिज़ाइन है और यही एक डिपार्टमेंट है जिसमे Vivo V7 काफी अच्छा साबित होता है। सेल्फी-एक्सपर्ट के टैग के साथ आने वाले फ़ोन का डिज़ाइन काफी अच्छा है क्योकि थिन-बेज़ेल्स, 2.5D ग्लास घुमावदार किनारे और मेटालिक फिनिश से युक्त है।

सॉफ्टवेयर की बात करे तो विवो ने इस फ़ोन में स्नैपड्रगन 450 चिपसेट दिया है जिसमे 4GB रैम और 64GB स्टोरेज का विकल्प दिया गया है। फोटोग्राफी के लिए 24MP का सेल्फी कैमरा और 16MP का रियर कैमरा दिया गया है। अगर आप अपने बजट को 15,000 रुपए तक बढ़ा सकते है तो Vivo V7 एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

संबंधित लेख:

Vivo V7 रिव्यु

Vivo V7 FAQ: सवाल-जवाब

Vivo V7 टिप्स और ट्रिक्स

डिस्प्ले: 5.7-इंच (16:9) FHD IPS | प्रोसेसर: 1.6GHz MediaTek Helio P20 octa-core SoC | रैम: 4GB | स्टोरेज: 32GB | सॉफ्टवेयर: Android 7.0 | रियर कैमरा: 13MP | फ्रंट कैमरा: 13MP| वजन: 179g | माप: 156.7 x 78.8 x 8.1mm | बैटरी: 3000mAh

न्यूनतम कीमत: 15,550 रुपए

Vivo V7 की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • अच्छा डिज़ाइन
  • फेस अनलॉक और फिंगरप्रिंट सेंसर
  • समर्पित कार्ड स्लॉट
  • अच्छा सेल्फी कैमरा

 

कमियाँ

  • लो-डिस्प्ले रेसोलुशन

 

 

5. Asus Zenfone 3

Asus Zenfone 3

हम जानते है की यह फ़ोन लगभग डेढ़ साल पहले लांच किया गया था लेकिन यह आज भी अच्छा विकल्प है क्योकि इसको आधिकारिक कीमत से लगभग 10000 रुपए के डिस्काउंट पर मिल रहा है। अगर आप रेडमी नोट 5 से इसकी तुलना करते है तो देखेंगे की दोनों ही फ़ोन लगभग एक जैसे ही स्पेसिफिकेशन से युक्त है।

यह फ़ोन रेडमी नोट 5 को लुक्स के मामले में काफी पीछे छोड़ देता है। यह फ़ोन देखने में काफी आकर्षक लगता है और फ्रंट और बैक पर जो ग्लास दिया गया है वो भी काफी आकर्षक है। केवल 7.7mm पतला ये फ़ोन आपको अच्छे रियर कमरे के साथ मिलता है और हाल ही में दिया गया एंड्राइड ओरेओ अपडेट जो इसको रेडमी नोट 5 की जगह अच्छा विकल्प बनता है।

संबंधित लेख:

Asus Zenfone 3 रिव्यु

Asus Zenfone 3 कैमरा रिव्यु

डिस्प्ले: 5.2-इंच/5.5-इंच FHD IPS | प्रोसेसर: स्नैपड्रगन 625 SoC | रैम: 3GB/4GB | स्टोरेज: 32GB/64GB | सॉफ्टवेयर: Android 8.0 | रियर कैमरा: 16MP | फ्रंट कैमरा: 8MP| वजन: 155g | माप: 152.6 x 77.4 x 7.7mm | बैटरी: 2650/3000mAh

न्यूनतम कीमत: 10,969 रुपए / 15,250 रुपए

Asus Zenfone 3 की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • बेहतरीन कैमरा
  • बढ़िया IPS LCD डिस्प्ले
  • कॉम्पैक्ट और प्रीमियम
  • अच्छा परफॉरमेंस

कमियाँ

  • पुराना यूजर इंटरफ़ेस

टॉप 5 Redmi Note 5 के योग्य विकल्प

चूँकि शाओमी अपने स्मार्टफोन एक बड़ी संख्या में उपलब्ब्ध नहीं करता है और लेटेस्ट फ़्लैश सेल ट्रेंड के तहत अपने स्मार्टफोन को सेल करते है। और इस फ़ोन के साथ भी शायद यही पैटर्न अपनाया जायेगा। इसलिए हम उम्मीद करते है की फ्लिपकार्ट और Mi.com पर कम से कम 1 से 2 महीने तक भीतर ही आपको अपने रेडमी नोट 5 को खरीद लेना चाहिए। अगर आपकी तलाश खत्म नहीं हो रही है तो आप इन रेडमी नोट 5 के विकल्पों पर विचार कर सकते है।

7 Best Phones Under Rs. 15,000 To Buy In 2018

Google Pay App: अब एंड्राइड प्लेटफार्म पर भी उपलब्ध

0

जनवरी में गूगल ने घोषणा की थी वह अपने सभी पेमेंट सर्विस को नए Google Pay ब्रांड में शामिल कर लेगा और आज गूगल का नया ऐप गूगल पे उपलब्ध हो गया है जिसके द्वारा गूगल ने अपनी कही बात पूरी कर दी। इसलिए आप एंड्राइड पे और गूगल वॉलेट दोनों ही सर्विस को अलविदा कहना पड़ेगा।

गूगल पे कंपनी द्वारा बनाई गयी बहुत बड़ी योजना का एक छोटा हिस्सा है। भविष्य में, सभी तरह के गूगल प्रोडक्टों को गूगल पे को सपोर्ट करना चाहिए जिनमे क्रोम और गूगल अस्सिस्टेंट भी शामिल है। अभी जल्द ही आप देखेंगे के अधिकतर वेबसाइट और ऐप गूगल पे द्वारा पेमेंट को सपोर्ट करने लगेंगी।

Google Pay क्या है?

गूगल-पे में आपको 2 टैब मिलते है। पहला होम और दूसरा कार्ड्स। होम टेब पर आपके द्वारा हाल ही में किये गए पेमेंट के बारे में जानकारी मिलेगी, आपके आस-पास के स्टोर्स को ढूंढने में मदद करेगा, आपको आपके रिवार्ड्स को जानने में हेल्प करेगा और कुछ सुझाव भी देगा।

दूसरे टैब कार्ड्स में आपको आपके द्वारा यूज़ या सेव किये गए क्रेडिट/डेबिट कार्ड की जानकारी मिलेगी जो पेमेंट को आसनी से और जल्दी करने में सहायक है। इसी टैब में आपको आपके लिए उपलब्ध ऑफर या गिफ्ट कार्ड की भी जानकारी मिलेगी।

यह भी पढ़े: UPI-आधारित एप्लीकेशनो की तुलना: Whatsapp Payment, Google Tez, Paytm

गूगल पे अभी कीव, लंदन और पोर्टलैंड में ट्रांजिट किराये के लिए काम करता है और काफी शहरों में यह जल्द ही आने का वादा भी करता है। आप इस ऐप के साथ ऑनलाइन पेमेंट फॉर्म भी भर सकते है जैसे आप एंड्राइड पे ऐप द्वारा करते थे और गूगल पे में आपको सिक्योरिटी के लिए एक एक्स्ट्रा लेयर भी दी जाती है जिसके द्वारा आप किसी भी स्टोर पर पेमेंट करते हुए अपना असली क्रेडिट/डेबिट कार्ड नंबर को साझा न करते हुए पेमेंट कर सकते है।

“अगले कुछ महीनो में आप गूगल पे के माध्यम से पैसो का लेन-देन करने की सुविधा भी प्राप्त कर लेंगे लेकिन यह सिर्फ US और UK में ही उपलब्ध होगी। यह सुविधा आपको गूगल-पे एप में मिलेगी जो गूगल वॉलेट का ही बदला हुआ रूप है।

7 Best Phones Under Rs. 15,000 To Buy In 2018

 

5G इंटरनेट: जाने इसके बारे में सब कुछ

0

क्वालकॉम स्नैपड्रगन X50 एक ऐसा LTE मॉडेम है जो बहुत ही तेज़ नेटवर्क स्पीड वाले 5G नेटवर्क को दुनियाभर के फ़ोन में फैलाएगा। चिपसेट बनाने वालो ने इस टेक्नोलॉजी का परीक्षण भी शुरू कर दिया है और 5G चिप्स युक्त स्मार्टफोन के प्रोडक्शन के लिए 18 ग्लोबल OEMs के साथ साझेदारी भी की है।(Read in English)

ऐसा कहा जाता है कि पहला तैयार 5G फोन 2019 तक उपलब्ध होगा, जिसका अर्थ है कि अभी इस नयी टेक्नोलॉजी के लिए हमको लगभग एक साल और इन्तजार करना पड सकता है। इससे पहले कि हम संभावनाओं को देखते हैं कि यह नया नेटवर्क कैसे काम करता है और यह दुनिया को कैसे प्रभावित करेगा। 4G नेटवर्क जो आज के समय की सबसे तेज़ टेक्नोलॉजी है, नयी 5G टेक्नोलॉजी उसको भी पीछे छोड़ देगी।

तो यहाँ वह सब बताया गया है जो आपको 5G इंटरनेट के बारे में जानने की ज़रूरत है जो सेलुलर नेटवर्किंग का भविष्य है।

यह भी पढ़े: Xiaomi India का वेब-पेमेंट पेज सुरक्षित नहीं

1. तेज़ और विश्वसनीय

स्वाभाविक रूप से 5G, 4G से तेज़ होगा, लेकिन यहाँ देखने वाली बात है की कितना तेज़ होगा? अभी हम जिस स्पीड से इंटरनेट यूज़ करते है वह Mbps में होती है लेकिन 5G की शुरुआत के बात ये स्पीड Gbps में होगी जो काफी आकर्षक है। जी हाँ, 5G सेलुलर नेटवर्क पर आपको 5Gbps तक की डाउनलोड स्पीड मिलने की क्षमता है।

यह मैखिक रूप से अधिकतम स्पीड है , लेकिन टेलीकॉम ऑपरेटर इसको एक-चौथाई तक ही दे पाएंगे लेकिन यह तब भी मौजूदा 4G नेटवर्क की तुलना में काफी ज्यादा तेज़ रहेगी।

इसके अलावा, 5G फ़ोन 5G और 4G कनेक्शन को सपोर्ट करेगा। इसलिए यह अनुमान लगाया जा सकता है की 5G डिवाइस जहाँ पर नेटवर्क कमजोर होगा वहाँ पर 4G नेटवर्क में बदल जायेगा लेकिन नेटवर्क की सेवा को टूटने नहीं देगा।

2. 5G उच्च क्षमता युक्त होगा

केवल स्पीड ही नहीं, 5G नेटवर्क की उच्च क्षमता भी भविष्य के लिए काफी लाभदायक होगी। कहा जा सकता है की ये नहीं सेलुलर टेक्नोलॉजी सामान्य यूजर को आने वाली नेटवर्क प्रॉब्लम को खुद ही हल करने में सक्षम होगी।

वर्तमान समय में 4G नेटवर्क में एक कमी है की जब काफी सारे यूजर एक साथ काम करते है जो यह या तो धीमा हो जाता है या फिर बंद हो जाता है जो काफी दिक्कत देने वाली बात है। लेकिन यह समस्या 5G नेटवर्क में नहीं आएगी क्योकि पहले जितनी क्षमता होती थी 5G में उस से काफी अधिक डाटा कनेक्शन को सपोर्ट करने की क्षमता होगी।

यह भी पढ़े: Samsung Galaxy Tab S4 हो सकता है जल्द ही लांच: स्नैपड्रगन 835 की उम्मीद

3. 5G सिर्फ फ़ोन के लिए नहीं

यह तेज़ स्पीड का नेटवर्क सिर्फ फ़ोन इंडस्ट्री में ही उपयोगी नहीं होगा बल्कि यह सभी इंटरनेट उपकरणों (IoT) की सेवाओं में सुधार करेगा।

उदाहरण के लिए, सेल्फ-ड्राइविंग कार एक नयी टेक्नोलॉजी है भविष्य में सभी कार अपने आस-पास की कारो से कम्युनिकेशन करेगी जो यातायात में सहायक होगा और एक सेफ यात्रा को सुनिश्चित करेगा।

इसी तरह उपभोक्ता टेक्नोलॉजी जैसे स्मार्टवॉच, वर्चुअल रियलिटी हेडसेट्स, पीसी और स्मार्ट होम डिवाइसेस, इन सभी डिवाइसों के प्रदर्शन में सुधार करेगा। यहाँ तक की दैनिक काम जैसे वीडियो कॉल करना या कुछ सर्च करने में भी आपको बेहतर परिणाम मिलेंगे।

4. क्लाउड स्टोरेज के सुधार

जब आपको नेटवर्क डाटा स्पीड इतनी तेज़ मिलेगी तो आपके फ़ोन की इंटरनल स्टोरेज आपके लिए कम पड़ सकती है ऐसे में स्मार्टफोन निर्माता फ़ोन में 5G सपोर्ट देने पर आपको कम स्टोरेज देकर क्लाउड स्टोरेज का उपयोग करने के लिए बाध्य कर सकता है।

इस पर उपयोगकर्ता भी ज्यादा माना नहीं कर पाएंगे क्योकि डाटा स्पीड इतनी तेज़ होगी की उपयोगकर्ता को जो फाइल जब चाहिए तब डाउनलोड करके यूज़ कर सकते है।

यह भी पढ़े: Moto Z2 Force VS OnePlus 5T Specification Comparison (हिंदी में)

5. 5G में कुछ विविध सुविधाएं

5G के तेज़ नेटवर्क को इस्तेमाल करने के लिए आपको थोड़ा अधिक कीमत चुकानी पड़ेगी क्योकि इतनी अधिक सुविधा आपको आज के सामान्य कीमत में तो नहीं मिल पायेगी। क्वालकॉम के मुताबिक,”5G की शुरुआत होने के बाद ऑनलाइन आने वाली डिवाइसों की वजह से डाटा की कीमत में थोड़ा कमी भी आएगी जो उपभोक्ता के लिए अच्छी बात होगी। लेकिन इसके लिए कोई समय-सीमा निर्धारित नहीं है।

एक और बात कहा जा रहा है की इस टेक्नोलॉजी को यूज़ करने वाले स्मार्टफोन/डिवाइसों में बैटरी बैकअप का मुद्दा जरूर आ सकता है क्योकि यह उपकरण थोड़ा बैटरी का थोड़ा ज्यादा उपयोग करेंगे। इसी कारण धीरे-धीरे पावर-मैनेजमेंट में सुधार होना चाहिए।

5G इंटरनेट: आपके जानने योग्य बाते

जैसे जैसे हम 5G टेक्नोलॉजी की तरह बढ़ रहे है, क्वालकॉम द्वारा एक नया 4G LTE मॉडेम भी पेश किया है। स्नैपड्रैगन X24 नाम से पेश किया गया मॉडेम चिपसेट आपको 2Gbps की डाउनलोड स्पीड देने में समर्थ है। X24 युक्त डिवाइस उपभोक्ताओं तो उसी समय के आस पास मिलेगी जब पहला 5G फोन पेश किया जायेगा, जिस से नयी टेक्नोलॉजी की तरफ रुख करने में कोई कठिनाई ना हो।

 

 

 

आगामी 2018 में 15,000 रुपए से कम कीमत में 7 बेहतरीन स्मार्टफोन

0

पिछले एक साल में प्रीमियम स्मार्टफोन की श्रेणी में काफी अच्छा विकास देखा गया है लेकिन भारतीय बाज़ारो में सही मायने में सबसे ज्यादा ध्यान किफायती 15,000 कीमत श्रेणी के स्मार्टफोनों पर ही रखा जाता है। किफायती कीमत की श्रेणी में आपको हमेशा कुछ समझौते करने पड़ते है इसलिए 10000 से 15000 कीमत की ये श्रेणी स्मार्टफोन निर्माताओ को काफी ज्यादा स्वतंत्रता दे देता है ताकि वह अपने ग्राहक को सबसे अच्छा प्रोडक्ट और सबसे बेहतरीन अनुभव प्रदान करे।(Read in English)

यहाँ सबसे ज्यादा देखने वाली बात यह है की इस प्राइस-सेगमेंट में शाओमी की काफी अच्छी पकड़ है, लेकिन अन्य सभी निर्माता भी अब इस श्रेणी में अपने प्रोडक्ट उतार कर मुकाबले को काफी अच्छा बनाने में पूरी तरह समर्पित है। आइये देखते है की 15000 की कीमत में कौन सा स्मार्टफोन आपकी तलाश पूरी करेगा।

यह भी पढ़े:UPI-आधारित एप्लीकेशनो की तुलना: Whatsapp Payment, Google Tez, Paytm

1. Redmi Note 5 Pro

शाओमी द्वारा अभी लांच किये गए नोट 5 प्रो (क्विक-रिव्यु) ने थोड़ी ही देर में हर सूची में अपने आपको सबसे आगे खड़ा कर लिया है। फ़ोन में आपको 18:9 रेश्यो की डिस्प्ले मिलती है तथा यह क्वालकॉम स्नैपड्रगन 636 चिपसेट के साथ आने वाला पहला स्मार्टफोन है जिसमे आपको 2 रैम विकल्प दिए गए है पहले 4GB रैम और दूसरा LPDDR4X 6GB रैम।

फोटोग्राफी के लिए इसमें आपको 20MP का फ्रंट-फेसिंग कैमरा दिया गया है और रियर में 12MP+5MP का ड्यूल कैमरा भी दिया गया है। अन्य सुविधा में आपको 4000mAh बैटरी, 64GB इंटरनल स्टोरेज और MIUI 9 सॉफ्टवेयर शामिल है।

तो अगर आपकी तलाश एक पॉवरफुल ऑल-राउंडर परफॉर्मर की है तो आपके लिए रेडमी नोट 5 प्रो सबसे बेहतर विकल्प हो सकता है।

डिस्प्ले: 5.99-इंच (18:9) FHD+ IPS | प्रोसेसर: स्नैपड्रगन 636 ओक्टा-कोर SoC | रैम: 4GB/6GB | स्टोरेज: 64GB | सॉफ्टवेयर: एंड्राइड  7.0 | रियर कैमरा: 12MP + 5MP | फ्रंट कैमरा: 20MP | वजन: 180g | माप: 158.6 x 75.4 x 8.05mm |बैटरी: 4000mAh

Xiaomi Redmi Note 5 Pro lowest price and full specifications

Redmi Note 5 Pro की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • सँभालने में आसान
  • पावरफुल परफॉर्मर
  • 18:9 डिस्प्ले
  • 20MP सेल्फी कैमरा

कमियाँ

  • एंड्राइड ओरेओ का ना होना
  • ह्यब्रीड सिम स्लॉट

2. Xiaomi Mi A1

शाओमी के रेडमी नोट 5 प्रो और MI A1 दोनों की फ़ोन समान कीमत में उपलब्ध है और दोनों ही फ़ोन लेटेस्ट ट्रेंड वाले सभी फीचर से युक्त है। लेकिन शाओमी का MI A1 अपने लिए एक अलग जगह बनता है जो रेडमी फ़ोन की खासियत है।

इस लिस्ट में जगह बनाने के A1 के पास 2 खूबियाँ है – सॉफ्टवेयर और डिज़ाइन। हालाँकि MI A1 के पास आपको 18:9 रेश्यो डिस्प्ले नहीं मिलेगी लेकिन इसमें आपको काफी अच्छी मेटल बैक मिलेगी। दूसरी ओर यह गूगल द्वारा संचालित स्टॉक एंड्राइड पर कार्य करता है जो MIUI 9 से बेहतर है। MI A1 में आपको पोर्ट्रेट मोड में इमेज काफी अच्छी क्वालिटी की प्राप्त होती है जो अपनी श्रेणी का अभी तक सबसे बेहतर आउटपुट है।

डिस्प्ले: 5.5 -इंच (16:9) FHD+ IPS | प्रोसेसर: स्नैपड्रगन 625 ओक्टा-कोर SoC | रैम: 4GB | स्टोरेज: 64GB | सॉफ्टवेयर: एंड्राइड  8.0 | रियर कैमरा: 12MP + 12MP | फ्रंट कैमरा: 5MP | वजन: 165g | माप: 155.4 x 75.8 x 7.3mm |बैटरी: 3080mAh

Mi A1 lowest price and full specifications

Xiaomi Mi A1 की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • एंड्राइड ओरेओ
  • पावरफुल परफॉरमेंस
  • बेहतरीन रियर कैमरा
  • फुल मेटल बॉडी

कमियाँ

  • रेगुलर १६:९ डिस्प्ले
  • हाइब्रिड सिम स्लॉट

3. Redmi note 5

शाओमी ने अपने रेडमी नोट 4 का अपग्रेडेड वर्ज़न रेडमी नोट 5 हाल ही में लांच किया है। रेडमी नोट 4 पिछले साल शाओमी का सबसे बेहतरीन फ़ोन साबित हुआ जो काफी मजबूत और अच्छा परफ़ॉर्मर था। इसी क्रम में शाओमी ने लेटेस्ट ट्रैंड के अनुसार इसको 18:9 डिस्प्ले से लैस करके बाजार में उतारा है।

फ़ोन के अन्य सुविधाएँ लगभग सामान ही है लेकिन शाओमी ने अपने कैमरा क्वालिटी में काफी सुधार करने का दावा किया है। कुल मिलकर यह रेडमी नोट 4 का एक पतला और बेहतर संस्करण है जो देखने में भी काफी अच्छा लगता है ।

डिस्प्ले: 5.99 -इंच (18:9) FHD+ IPS | प्रोसेसर: स्नैपड्रगन 625 ओक्टा-कोर SoC | रैम: 3GB/4GB | स्टोरेज: 32GB/64GB | सॉफ्टवेयर: एंड्राइड 7.0 | रियर कैमरा: 12MP | फ्रंट कैमरा: 5MP | वजन: 180g | माप: 158.5 x 75.5 x 8.1mm |बैटरी: 4000mAh

Redmi Note 5 lowest price and full specifications

Redmi Note 5 की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • सँभालने में आसान
  • विश्वसनीय परफॉर्मन्स
  • संतोषजनक बैटरी बैकअप

कमियाँ

  • एंड्राइड ओरेओ का ना होना
  • हाइब्रिड सिम स्लॉट

4.Honor 9 Lite

एक खूबसूरत फ़ोन जिसमे बेसिक यूजर के जरूरत की सभी सुविधा हो ऐसे फ़ोन की तलाश करने वालो के लिए Honor 9 Lite(रिव्यु)एक अच्छा विकल्प हो सकता है। हम मानते है की जब प्रदर्शन की बात आती है तब यह रेडमी नोट 5 या रेडमी नोट 5 प्रो के मुकाबले थोड़ा कमजोर नजर आता है लेकिन देखने के हिसाब से यह काफी अच्छा फ़ोन है।

फ़ोन में फ्रंट और रियर साइड ग्लास दिया गया है जिस कारण यह काफी सुन्दर दिखाई देता है जो काफी कॉम्पैक्ट और आरामदायक भी है। इस स्मार्टफोन का शीर्ष मॉडल आपको 14999 रुपए की कीमत में उपलब्ध है लेकिन यह उतना प्रभावित नहीं करता इसलिए इसका बेसिक संस्करण आपके लिए एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है।

डिस्प्ले: 5.65 -इंच (18:9) FHD+ IPS | प्रोसेसर: किरिन 659 ओक्टा-कोर SoC | रैम: 3GB/4GB | स्टोरेज: 32GB/64GB | सॉफ्टवेयर: एंड्राइड 7.0 | रियर कैमरा: 13MP+2MP | फ्रंट कैमरा: 13MP+2MP | वजन: 149g | माप: 151 x 71.9 x 7.6mm |बैटरी: 3000mAh

Honor 9 Lite lowest price and full specifications 

Honor 9 Lite की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • प्रीमियम डिज़ाइन
  • डिस्प्ले क्वालिटी
  • एंड्राइड ओरेओ

कमियाँ

  • औसत परफॉरमेंस
  • बैटरी बैकअप
  • हाइब्रिड सिम स्लॉट

5.Samsung Galaxy On Max

अगर आपको कोई बड़े ब्रांड का स्मार्टफोन लेना है तो सैमसंग गैलेक्सी ओन मैक्स शायद आपके लिए एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है। यह फ़ोन 5.7-इंच की FHD+ स्क्रीन के साथ आता है जिसमे आपको एक अच्छा सॉफ्टवेयर इंटरफ़ेस मिलता है और जल्द ही एंड्राइड ओरेओ अपडेट भी मिल सकता है। फोटोग्राफी के लिए आपको एक अच्छा कैमरा सेट दिया हुआ है।

सैमसंग गैलेक्सी ऑन मैक्स 18:9 डिस्प्ले या ड्यूल-कैमरे जैसी लेटेस्ट फीचर के साथ नहीं आता है, लेकिन यह इस बजट में एक भरोसेमंद फोन है जो सैमसंग का सर्वश्रेष्ठ प्रोडक्ट है।

डिस्प्ले: 5.7 -इंच (16:9) FHD+ IPS | प्रोसेसर: 1.6GHZ मीडिया टेक हेलिओ P20 ओक्टा-कोर | रैम:4GB | स्टोरेज: 32GB | सॉफ्टवेयर: एंड्राइड 7.0 | रियर कैमरा: 13MP | फ्रंट कैमरा: 13MP | वजन: 179g | माप: 156.7 x 78.8 x 8.1mm |बैटरी: 3000mAh

Samsung Galaxy On Max lowest price and full specifications

Samsung Galaxy On Max  की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • अच्छी बैटरी लाइफ
  • सैमसंग पे मिनी
  • समर्पित माइक्रो-sd कार्ड स्लॉट
  • अच्छी कैमरा क्वालिटी

कमियाँ

  • फ़ास्ट चार्जिग नहीं
  • 18:9 डिस्प्ले नहीं

6. Vivo V7

विवो V7 (समीक्षा) 18:9 रेश्यो की डिस्प्ले के साथ आता है जो स्नैपड्रगन 450 प्रोसेसर से संचरित है और ऑफलाइन स्टोर्स में भी उपलब्ध है। अन्य फीचर में 4GB रैम और 32GB इंटरनल स्टोरेज के साथ-साथ एक समर्पित मेमोरी कार्ड स्लॉट भी दिया गया है।

वीवो अपने स्मार्टफोन में सेल्फी कैमरा पर काफी ज्यादा धयान देता है जिसके कारण उसके परिणाम काफी अच्छे आते है।

डिस्प्ले: 5.7 -इंच (18:9) HD+ IPS | प्रोसेसर: 1.8GHz स्नैपड्रगन 450 ओक्टा-कोर SoC | रैम: 4GB | स्टोरेज: 32GB | सॉफ्टवेयर: एंड्राइड 7.0 | रियर कैमरा: 16MP | फ्रंट कैमरा: 24MP | वजन: 139g | माप: 149.3 x 72.8 x 7.9mm |बैटरी: 3000mAh

Vivo V7 lowest price and full specifications

Vivo V7 की खूबियाँ और कमियाँ

खूबियाँ

  • अच्छा डिज़ाइन
  • फेस अनलॉक और फिंगरप्रिंट सेंसर
  • समर्पित मेमोरी कार्ड स्लॉट
  • अच्छा सेफ्ली कैमरा

कमियाँ

  • लो-डिस्प्ले रेसोलुशन
  • आगामी फ़ोन

आगामी फ़ोन:

7. Moto G6-Series

मोटोरोला जल्दी ही अपनी G6-सीरीज पेश करने वाला है जिसमें तीन फोन शामिल हैं: जी6, जी6 प्ले, और जी6 प्लस। तीनो ही फ़ोन 18:9 रेश्यो की FHD+ डिस्प्ले और ड्यूल-कैमरा (12MP +5MP) से लैस हो सकते है। वही प्रोसेसर के रूप में स्नैपड्रगन 630 ओक्टा-कोर चिपसेट दी जाने की उम्मीद कर सकते है।

जी-6 श्रृंखला जल्द ही MWC 2018 में आधिकारिक रूप से पेश हो जाएगी।

2018 में खरीदने के लिए 15,000 रुपये के तहत सर्वश्रेष्ठ फोन

15000 रुपए की कीमत में काफी अच्छे विकल्प मौजूद है जिनमे से आप अपने लिए नयी डिवाइस चुन सकते है। इनके अलावा कुछ नए एवं अपरिचित ब्रांड के भी स्मार्टफोन अच्छे विकल्प हो सकते है लेकिन हमने इस सूची में केवल टेस्ट किए गए विकल्पों को शामिल किया है। हम आगे भी फ़ोन अपडेट करते रहेंगे ताकि यह सूची आपके लिए लाभदायक बनी रहे।

10 Best Phones You Can Buy Under Rs. 30,000 In 2018

 

Xiaomi India का वेब-पेमेंट पेज सुरक्षित नहीं

0

हाल ही में, वनप्लस के असुरक्षित पेमेंट पेज की वजह से लगभग 40,000 से अधिक ग्राहकों के क्रेडिट कार्ड का डाटा चोरी हो गया था जो काफी चौकाने वाली घटना थी। अब लगता है शाओमी इसका अलग शिकार बन सकती है, क्योकि शाओमी का भी वेब पेमेंट पेज भी सुरक्षित नहीं है।(Read in English)

यह मुद्दा सबसे पहले एक Reddit यूजर द्वारा रिपोर्ट किया गया। हमने रिपोर्ट में किये गए दावे की सच्चाई को खुद से भी चैक किया है जो अंत में सच साबित हुई है। भले ही यह पेज आपको गेटवे के लिए “100% सिक्योरिटी गारंटी” देता है लेकिन जिस पेज पर आप अपने क्रेडिट कार्ड की डिटेल्स भरते है वो पेज सिक्योर नहीं है। जैसा आप नीचे देख भी सकते है।

क्रोम और फायरफॉक्स दोनों ब्राउज़र का कहना है की “यह पेज सुरक्षित नहीं है और यूजर को किसी भी तरह का संवेदनशील डाटा पेज पर सबमिट नहीं करना चाहिए जैसे क्रेडिट कार्ड डिटेल्स, पासवर्ड आदि। तथा किसी भी तरह की परमिशन देने से बचना चाहिए।

अब यह मुद्दा हाइलाइट कर दिया गया है, शाओमी इंडिया को जल्द ही इसे ठीक करना चाहिए। इस बीच, आपको अपने क्रेडिट कार्ड और वेब भुगतान पेज के माध्यम से बैंकिंग विवरण दर्ज करने से बचना चाहिए। इसके बदले आप वॉलेट भुगतान विकल्प का विकल्प चुन सकते हैं और Paytm और MobiKwik द्वारा भुगतान कर सकते हैं। वास्तव में, यदि आप किसी वेबसाइट से खरीदते समय निश्चित नहीं हैं, तो यह हमेशा सलाह दी जाती है कि आप भुगतान करने के लिए लिंक किए गए वॉलेट का उपयोग करें।

यह भी पढ़े:Samsung Galaxy Tab S4 हो सकता है जल्द ही लांच: स्नैपड्रगन 835 की उम्मीद

गूगल क्रोम द्वारा जुलाई में ही शुरू किया गया था की वह हर वेबसाइट के बारे में बताएगा जिसके HTTPS का उपयोग सुरक्षित नहीं करती है और यह उन वेबसाइट के अधिकारी को अपने एन्क्रिप्टेड और सिक्योरिटी पेज को बदलने के लिए सूचना देगा।  जो आपके डाटा को सुरक्षित करने में काफी सहयोग करेगी और किसी भी तरह की जासूसी से आपको बचाएगी।

गूगल दावा करता है की क्रोम-OS और Mac पर 80% क्रोम-ट्रैफीक तथा विंडो पर 70% क्रोम-ट्रैफिक अब HTTPS एन्क्रिप्शन द्वारा सुरक्षित है। एंड्राइड पर यह आंकड़े 68% तक ही पहुंच पाता है जिसमे थोड़ा बेहतर होने की उम्मीद है।

7 Best Phones Under Rs. 15,000 To Buy In 2018

 

 

 

LG Smart Ceiling Fans होंगे भारत में लॉन्च:जाने फीचर और उपलब्धता

0

टेक समूह LG अपने IoT-आधारित सीलिंग फैन को इंडिया में जल्दी ही लांच करने की योजना बना रहा है। फैन में आपको इंटरनेट कनेक्टिविटी मिलेगी जिसके द्वारा अप्प फैन को रिमोट द्वारा भी नियंत्रित कर सकते है। यह फैन आपको ‘एनर्जी एफ्फिसिएंट’ और ‘सुन्दर डिज़ाइन’ से युक्त होंगे जिनका मुल्य थोड़ा अधिक हो सकता है।(Read in English)

एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स इंडिया के प्रबंध निदेशक Ki Wan Kim(की वान किम) ने PTI को ये सुचना दी। उन्होंने कहा, “इस वर्ष हम भारत में (स्मार्ट) सीलिंग फैन को लॉन्च करने की तैयारी कर रहे हैं।”

यह भी पढ़े: Moto Z2 Force VS OnePlus 5T Specification Comparison (हिंदी में)

LG Smart-Ceiling Fan के स्पेसिफिकेशन

स्मार्ट-सीलिंग फैन ने खुद से स्पीड-कंट्रोल और क्लाउड-कंट्रोल जैसी सुविधाएं दी गयी होंगी। पहले के फैन में आपको तापमान बदलने के साथ ही फैन की स्पीड कम या ज्यादा हो जाती थी लेकिन अब आपको फैन के साथ इंटरनेट कनेक्टिविटी भी मिलेगी जिसके द्वारा आप कही से भी अपने फैन को कंट्रोल कर सकते है।

इसके अलावा, प्रशंसकों को हटाने योग्य भाग होंगे, जिसका मतलब है कि वे आसानी से साफ़ हो जायेंगे और खोलने के बाद उनको धो भी सकते है।

जैसा की आप जानते ही है की  IoT या इंटरनेट उप चीज़ो  की तरफ रेफर किया जाता है जो आपसे में इंटरनेट के माध्यम से जुड़े हो। LG ने भविष्य में विभिन्न क्षेत्रों में IoT आधारित उपकरणों की संख्या बढ़ाने की योजना बनाई है।

 

किम ने पीटीआई को बताया, “निश्चित रूप से, हम एक-एक करके, मॉडल से मॉडलआगे बढ़ते हैं, आईओटी आधारित उपकरणों में “विशाल क्षमता होती है।”

LG Smart-Ceiling Fan  कीमत और उपलब्धता

एलजी स्मार्ट-फैन इस साल जून तक भारतीय बाजार में दो अन्य प्रीमियम-श्रेणी वाले सीलिंग पंखे के साथ शुरुआत करेंगे। कंपनी ने स्मार्ट-फैन के मूल्य पर कोई संकेत नहीं दिया।

इसके अलावा, कंपनी अपने एनर्जी-सेविंग इन्वर्टर टेक्नोलॉजी को अपने अन्य उत्पादों में उपयोग करने के लिए भी काम कर रही है जैसे वॉशिंग मशीन और रेफ्रिजरेटर, जो उन्हें ऊर्जा कुशल बनाने के लिए प्रेरित करेगा।

Moto Z2 Force VS OnePlus 5T Specs Comparison: Can The Modular Phone Unsettle The Settled?

Samsung Galaxy Tab S4 हो सकता है जल्द ही लांच: स्नैपड्रगन 835 की उम्मीद

0

MWC 2018 में सैमसंग द्वारा अपने फ्लैगशिप फ़ोन गैलेक्सी S9 और S9+ पेश किये जायेंगे लेकिन ताज़ा रिपोर्ट्स के अनुसार सैमसंग अपने गैलक्सी टैब S3 के अपग्रेडेड वर्ज़न S4 पर भी काम कर रहा है। गीकबेंच पर एक सैमसंग डिवाइस SM-T835 को लिस्ट में देखा गया है अगर हम पिछले पैटर्न को माने तो ये नए सैमसंग गैलेक्सी टैब S4 के संकेत हो सकते है। अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं है कि वास्तव में गैलेक्सी टैब S4 ही है लेकिन हमें याद है कि S3 एलटीई मॉडल को SM-T825 के रूप में टैग किया गया था।

सैमसंग गैलक्सी S4 के स्पेसिफिकेशन (आपेक्षित)

Samsung SM-T835’s की GFXBench पर उपस्थित लिस्ट के अनुसार, यह 10.5-इंच की सुपर अमोलेड डिस्प्ले से लैस हो सकता है जिसका स्क्रीन रेसोलुशन 2560x 1600 पिक्सेल्स होगा। सॉफ्टवेयर परफॉरमेंस के लिए एड्रेनो 540 के साथ, 2.3GHz ओक्टा-कोर स्नैपड्रगन 835 प्रोसेसर दिया जा सकता है। टैब आपको 4GB रैम और 64GB इंटरनल स्टोरेज के विकल्प के साथ उपलब्ध हो सकता है।

यह भी पढ़े: Asus Zenfone 5 की iPhone X से प्रेरित Notch के साथ इमेज लीक

फोटोग्राफी के लिए, टैब में आपको रियर में 12MP का कैमरा और सेल्फी के लिए आपको 8MP का फ्रंट-फेसिंग कैमरा दिया जा सकता है। अगर लिस्टिंग पर विश्वास करे तो यह टैब नवीनतम एंड्राइड ओरेओ पर रन करेगा जो इसके अभी तक का सबसे पॉवरफुल टेबलेट बना देगा।

Samsung Galaxy Tab S4 की उपलब्धता

यहाँ विशेष रूप से मोबाइल डिवाइस को एलटीई मॉडल कहा जाता है लेकिन हमें पता है कि केवल वाईफ़ाई मॉडल भी तैयार होगा। उपलब्धता और मूल्य के बारे में अभी किसी प्रकार की कोई जानकारी नहीं हैं लेकिन हम मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2018 में इसके पेश होने की उम्मीद लगाए हुए हैं। यदि MWC 2018 में पेश नहीं होता तो मार्च या अप्रैल महीने में लांच होने की संभवना लगा सकते है।

MWC 2018 से जुडी सभी अपडेट के लिए जुड़े रहे।

Nokia 2, Nokia 3 Now Available For An Effective Price of Rs 4,999 and Rs 7,999

Asus Zenfone 5 की iPhone X से प्रेरित Notch के साथ इमेज लीक

0

एप्पल आज भी स्मार्टफोन निर्माताओं के लिए ट्रेंड-सेटर बना हुआ है क्योकि अधिकतर सभी ब्रांड्स अपनी डिवाइसों में एप्पल स्मार्टफोन के फीचर और डिज़ाइन की नक़ल करने की कोशिश करते है जिनमे आईफोन एक्स नॉच भी शामिल है। जी हाँ, Asus Zenfone 5 अपने डिस्प्ले के ऊपर आईफोन एक्स की तरह ही नॉच दिखायेगा।(Read in English)

ज़ेनफोन 5 की नयी लीक हुई इमेज से साफ़ पता चलता है की फ़ोन में आईफोन एक्स की तरह नॉच दिया जायेगा। ताइवानी कंपनी ने फ्रंट फेसिंग कैमरा और हैडफ़ोन जेक को इस नॉच में जगह दी है लेकिन यहाँ फेस-रेकोगिनाशन हार्डवेयर उपलब्ध नहीं है।

अगर पिछली लीक हुई अफवाहों को माने तो आसुस जेनफ़ोन 5 का रियर डिज़ाइन भी आईफोन एक्स से प्रेरित होगा।  ऐसा अनुमान है की इसमें बैक साइड में ड्यूल-वर्टीकल कैमरा दिया होगा जीके ठीक निचे LED फ़्लैश दी गयी होगी। वही पीछे की ही तरफ आपको फिंगरप्रिंट सेंसर और आसुस का नाम भी मिलेगा। इसके अलावा लीक हुए रेंडर में एक ही स्पीकर ग्रिल और यूएसबी टाइप-सी पोर्ट भी दिखाया गया है। यहाँ 3.5mm हैडफ़ोन जैक का होना एप्पल से थोड़ा अलग करना दिखाता है।

Asus इस महीने के आखिर में मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस इवेंट में Zenfone 5-श्रृंखला को पेश को करेगा। यह उम्मीद की जाती है कि सीरीज में  ज़ेनफोन 5, ज़ेनफोन 5 लाइट और ज़ेनफोन 5 मैक्स स्मार्टफोन शामिल होंगे।

यह भी पढ़े: Moto Z2 Force VS OnePlus 5T Specification Comparison (हिंदी में)

Asus Zenfone 5 के स्पेसिफिकेशन(आपेक्षित)

ज़ेनफोन 5 में स्नैपड्रगन 636 और 6GB रैम का विकल्प होने का अनुमान है। कुछ रिपोर्ट ने संकेत दिए है की आसुस ज़ेनफोन 5 के अन्य संस्करण भी लांच कर सकती है जो स्नैपड्रगन 670 से लैस होंगे। कुछ अन्य ब्रांडों के विपरीत, Asus MWC मंच से किसी भी स्नैपड्रैगन 845 स्मार्टफोन लॉन्च नहीं करेगा। आसुस शायद जून 2018 के आसपास अपना फ्लैगशिप स्मार्टफोन ज़ेनफोन 5Z को लॉच कर सकता है।

Flagship LG Phone With MLCD+ Display and Snapdragon 845 to Launch in June 2018

LG का फ्लैगशिप फ़ोन हो सकता है जून में लांच: MLCD+ डिस्प्ले और स्नैपड्रगन 845 होंगे ख़ास फीचर

0

आखिरकार यह सुनिश्चित हो गया की LG अपना नया फ्लैगशिप फ़ोन MWC 2018 में लांच नहीं करेगा। कंपनी जो नया फ़ोन पेश करेगी वो सिर्फ LG V30 का AI-फीचर युक्त नया संस्करण होगा। कंपनी भी अब चीन से बाहर के बाज़ारो की तरफ झुक रही है जिस से साफ़ पता चलता है की कंपनी अपनी पॉलिसी और रणनीति में थोड़ा बदलाव कर रही है।(Read in English)

एलजी के सीईओ ने एक बार कहा था कि वे केवल जरूरत होने पर ही नए स्मार्टफ़ोन को लांच करेंगे। एलजी के सीईओ ने एक बार कहा था कि वे केवल जरूरत होने पर ही नए स्मार्टफ़ोन को लांच करेंगे। अभी नए G-सीरीज फ़ोन के आने में थोड़ा समय लग सकता है लेकिन इतना निश्चित है की यह फ़ोन आ जरूर रहा है। ताज़ा अफवाह के अनुसार नए G7 का स्क्रीन साइज पहले से अधिक होगा। जहा तक अनुमान है ये 18:9 रेश्यो की 6.1-इंच की डिस्प्ले से लैस होगा।

MLCD+ डिस्प्ले क्या है? क्या ये IPS LCD से बेहतर है?

रिपोर्ट के अनुसार, LG के Judy फ़ोन में आपको 6.01 इंच के डिस्प्ले के साथ 18: 9 स्क्रीन रेश्यो और एचडीआर 10 सपोर्ट मिलेगा। यह हैंडसेट एक नयी तकनीक के साथ आएगा जिसे MLCD+ कहा जाता है। इस तकनीक के प्रयोग से पावर की कम खपत होगी और डिस्प्ले थोड़ा ब्राइट दिखेगा। यह डिस्प्ले टेक्नोलॉजी नयी नहीं है क्योकि LG अपने LCD टीवी में इस तकनीक का प्रयोग कर रहा है।

MLCD+ पैनल की 800-nits ब्राइटनेस है, जो पारंपरिक LCD डिस्प्ले दो गुनी ब्राइटनेस है, और यह सामान्य डिस्प्ले की तुलना में 35 प्रतिशत कम बैटरी की खपत करता है। इसका मतलब है कि आप आसानी से अपने फोन को एक तेज़ धूप वाले दिन भी अपनी आँखों को दिक्कत दिए बिना बाहर उपयोग कर सकते हैं।

एलजी के एमएलसीडी पैनल ब्राइटनेस को बढ़ाने के लिए आरजीबी के पास एक सफेद सब-पिक्सेल का उपयोग करता है। इसलिए प्रदर्शन का बेसिक पिक्सेल आरजीबीडब्ल्यू है और एलजी सफेद पिक्सेल को एक अलग पिक्सेल के रूप में भी मानता है जिससे इस रेसोलुशन माप में आसानी होती है।

सामान्य रूप से ब्राइटनेस इमेज और मीडिया फाइल्स को और देखने में और बेहतर बनाती है, लेकिन वाइट पिक्सेल का उपयोग करने पर थोड़ा नेगेटिव इफ़ेक्ट भी पड़ता है जो आपको आसानी से नहीं पता चलेगा।

यह भी पढ़े: Qualcomm Snapdragon 855: वर्ल्ड का पहला 7nm प्रोसेसर

LG Judy की विशेषताएँ(आपेक्षित)

फोन की डिस्प्ले में नए MLCD+ पैनल का उपयोग किया जा सकता है जो 35% कम पावर यूज़ करने के अलावा 800-nit ब्राइटनेस तक पहुंच सकता है। यह स्मार्टफोन स्नैपड्रगन 845, 4GB रैम और 16MP ड्यूल कैमरा के साथ-साथ वायरलेस चार्जिंग और एक डिजिटल असिस्टेंट से युक्त होगा। कुछ रिपोर्ट्स की माने तो यह IP68 रेटिंग दी गयी है मतलब यह फ़ोन वाटर और डस्ट रेसिस्टेंट होना चाहिए।

 

इस साल LG G7 नहीं है?

इस रिपोर्ट से इतना तो साफ़ हो गया है की LG अपने G-सीरीज को आगे नहीं बढ़ाएगी। कंपनी इस साल के MWC पर अपने V30 के अपग्रेडेड वर्ज़न को ही लांच करेगी जो AI अस्सिस्टेंट के साथ आएगा।

LG V30+ Review: Feels perfect for its price

Moto Z2 Force VS OnePlus 5T Specification Comparison (हिंदी में)

0

अमेरिका में लांच होने के बाद, मोटो ने भारत में अपने प्रमुख फोन मोटो ज़ेड2 फोर्स को लांच कर दिया है। हालांकि ये लांच थोड़ी देर से हुआ लेकिन, हैंडसेट अभी भी काफी सक्षम है और एक किफायती मध्य-श्रेणी की कीमत में उपलब्ध है।(Read in English)

मोटो ज़ेड2 फोर्स का सबसे बड़ा आकर्षण इसकी शटरप्रूफ-डिस्प्ले और मॉड्यूलर एक्सेसरीज उर्फ मोटो मोड्स के लिए सपोर्टेड होना है। यह फोन भारत में 34,999 रुपये की कीमत में उपलब्ध है जिसका अर्थ है कि यह वनप्लस 5टी से सीधी टक्कर लेगा, जो इस कीमत में सबसे ज्यादा बिकने वाला फोन है।

तो, आप किसे खरीदना पसंद करेंगे? चलिए पता लगाते है दोनों की तुलना करके:

Moto Z2 Force vs OnePlus 5T स्पेसिफिकेशन

मॉडल Moto Z2 Force OnePlus 5T
डिस्प्ले 5.5-इंच 16:9 Quad HD+ POLED shatterproof डिस्प्ले 6-इंच 18:9 AMOLED डिस्प्ले FHD+, Gorilla Glass 5
प्रोसेसर 2.45GHz ओक्टा कोर स्नैपड्रगन 835 Soc, Adreno 540 GPU 2.45GHz ओक्टा कोर स्नैपड्रगन 835 Soc, Adreno 540 GPU
रैम 6GB 6GB LPDDR4x
आंतरिक स्टोरेज 64GB(2TB तक बढ़ा सकते है) 64GB (UFS2.1)
सॉफ्टवेयर एंड्राइड ओरेओ एंड्राइड नोगत बेस्ड ऑक्सीजन OS
प्राथमिक कैमरा 12MP(f/2.0)+12MP(f/2.0) 16MP(f/1.7)+20MP(f/1.7)
सेकेंडरी कैमरा 5MP, f/2.2 16MP, f/2.0
बैटरी 2730mAh, Turbo Charging 3,300mah
अन्य 4G VoLTE, ब्लूटूथ 5.0, GPS, USB Type-C,Wi-Fi, फिंगरप्रिंट सेंसर, 3.5 ऑडियो जैक, मोटो मोड्स और मोटो जेस्चर 4G VoLTE, ब्लूटूथ 5.0, फिंगरप्रिंट सेंसर, Wi-Fi, USB Type-C , NFC, GPS, Alert Slider
कीमत 34,999 रुपए 32,999 रुपए

यह भी पढ़े: Qualcomm Snapdragon 855: वर्ल्ड का पहला 7nm प्रोसेसर

डिज़ाइन और बिल्ड क्वालिटी

मोटो ज़ेड2 फोर्स और वनप्लस 5 टी दोनों ही फ़ोन हाथ में लेने पर अच्छे लगते है। दोनों ही फ़ोन अपनी मेटल यूनिबॉडी और घुमावदार किनारो के साथ काफी प्रीमियम और स्लिम लगते है। यह दोनों ही उपकरण आपको डिज़ाइन या बिल्ड क्वालिटी के मामले में निराश नहीं करेंगे।

मोटो ज़ेड2 फोर्स का डिज़ाइन उसके साथी मोटो ज़ेड2 प्ले की ही तरह है। पहले की ही तरह इसमें फ्लैट बैक पर थोड़ा सा उठा हुआ रियर-कैमरा, मोटोरोला का लोगो और निचे की तरफ मैग्नेटिक पिंस दी गयी है। यह ज़ेड2 से थोड़ा पतला है और मेटेलिक बैक के साथ आता है। फ़ोन में गयी गयी शैटर-प्रूफ डिस्प्लै आपको पानी की बूंदो से इसको बचाती है।  मोटो ज़ेड2 फाॅर्स में लेटेस्ट ट्रेंड फीचर फुल-व्यू डिस्प्ले नहीं दिया गया है जो इन दोनों स्मार्टफोन के बीच मुख्य अंतर है।

यह भी पढ़े: Xiaomi Mi Mix 2S के स्पेसिफिकेशन और फर्मवेयर लीक: Snapdragon 845

दूसरी ओर, वनप्लस 5 टी में डिस्प्ले की अलग ही कहानी है। फ़ोन में थोड़ा सा घुमावदार बैक पैनल है जिसपर आपको फिंगरप्रिंट सेंसर और कैमरा सेटअप मिलता है। फ़ोन में फुल-व्यू डिस्प्ले दी गयी है जो गोरिल्ला ग्लास 5 की प्रोटेक्शन के साथ आती है।

डिस्प्ले

मोटो जेड2 फोर्स में आपको 5.5-इंच के QHD (2560 x 1440 पिक्सल) POLED स्क्रीन मिलेगी जो चारो तरफ से बेज़ेल से घिरी हुई है। जबकि वन प्लस 5टी में 6-इंच की FHD+(2160 × 1440) फुल-व्यू डिस्प्ले दी गयी है जिसमे स्क्रीन रेश्यो 18:9 रखा गया है जो काफी अच्छा प्रतीत होता है।

मोटो Z2 फोर्स यहाँ पर वनप्लस 5T से थोड़ा आगे दिखाई देता है क्योकि स्क्रीन रेसोलुशन के मामले में मोटो Z2 फोर्स थोड़ा बेहतर है फ़ोन में दिया गया Latter’ डिस्प्ले आँखों को काफी अच्छा प्रतीत होता है। वही फुल-व्यू डिस्प्ले एक ऐसी सुविधा है जिसको आज के समय में कोई भी यूजर मिस नहीं करना चाहेगा।

मोटो ज़ेड2 फोर्स में शैटरशील्ड टेक्नोलॉजी दी गयी है जो इसकी पानी की बूंदों से बचाती है लेकिन इसमें स्क्रैचेस के लिए काफी खतरा है इसलिए आपको हर समय एक स्क्रीन प्रोटेक्टर का उपयोग करना ही पड़ेगा।

सॉफ्टवेयर प्रदर्शन

सॉफ्टवेयर के मामले में दोनों ही स्मार्टफोन स्नैपड्रगन 835 और स्टॉक एंड्राइड पर रन करते है। हालाँकि 5T एंड्राइड बेस्ड ऑक्सीजन-OS का उपयोग करता है लेकिन यह काफी हद्द तक स्टॉक एंड्राइड का ही अनुभव देता है।

दोनों फ़ोन जिस प्रोसेसर का उपयोग करते है वो इंडस्ट्री में इस्तेमाल होने वाले सबसे तेज़ चिपसेट में से एक है जो काफी बेहतर प्रतिदिन प्रदर्शन और गेमिंग अनुभव प्रदान करता है।

वनप्लस 5 टी को थोडा फायदा यहां है क्योंकि फोन एलपीडीडीआर 4x रैम के साथ दो विकल्पों में आता है। बेस संस्करण 6GB रैम और 64GB स्टोरेज के साथ और शीर्ष-संस्करण 8GB रैम और 128GB स्टोरेज के साथ आता है।

मोटो Z2 फोर्स एक ही संस्करण में आता है – सामान्य 6GB रैम और 64GB इंटरनल स्टोरेज। हालांकि, फोन अभी भी अपनी मॉड्यूलर क्षमताओं के साथ थोड़ा आगे रहने में सफल हुआ है। मोटो मोड्स के साथ मोटो जेड2 फोर्स में कुछ एक्स्ट्रा फीचर्स जोड़ सकते हैं।

यह भी पढ़े: Xiaomi Redmi Note 5 Pro Quick Review (In Hindi)

सॉफ्टवेयर की बात करे तो दोनों ही फ़ोन काफी सुविधा संपन्न हैं। मोटो जेड 2 फोर्स मोटो जेस्चर के साथ मिलकर नवीनतम एंड्रॉइड ओरेओ पर चलता है। जबकि OnePlus 5T शुरू में एंड्रॉइड नोगाट पर कार्य करता है, लेकिन आप इसे एंड्रॉइड ओरेओ में अपडेट कर सकते हैं।

कैमरा और बैटरी

मोटो ज़ेड2 फोर्स f/2.0 एपर्चर लेंस, पीडीएएफ, लेजर ऑटो फोकस और रेगुलर एलईडी फ्लैश के साथ पीछे की तरफ दो 12MP आरजीबी और मोनोक्रोम सेंसर से युक्त है। वही दूसरी तरफ, वनप्लस 5 टी में 16MP और 20MP सेंसर भी हैं, लो-लाइट सेंसर भी दिया गया है। दोनों सेंसर वाइड एफ/1.7 एपर्चर ऑप्टिक्स, ईआईएस और एलईडी फ्लैश से युक्त है।

दोनों फोन में पोर्ट्रेट मोड और अच्छी डेलाइट में अच्छी इमेज शूट करने की क्षमता है। लेकिन, यह मोटो ज़ेड 2 फोर्स में दिया गया अतिरिक्त मोनोक्रोम सेंसर आपको बेहतर लो-लाइट परफॉरमेंस देगा।

दोनों फ़ोन को देखे तो, वनप्लस 5T में बड़ी बैटरी दी गयी है जो आपको बेहतर बैकअप प्रदान करती है। शायद इसी वजह से मोटो ने जेड 2 फोर्स को मोटो टर्बो पावर के साथ पेश किया है जिसके द्वारा आप बैटरी बैकअप को बढ़ा सकते है। दोनों ही फ़ोन टर्बो चार्जिंग को सपोर्ट करते है लेकिन  OnePlus 5T का डैश चार्जर टुब्रो की तुलना में काफी तेज़ है।

निष्कर्ष

दोनों ही फोन में काफी कड़ा मुकाबला है क्योकि एक तरफ वनप्लस 5T के पास काफी बढ़त है लेकिन आप मोटो Z2 फोर्स को भी नज़रअंदाज नहीं कर सकते है क्योकि कुछ अलग चाहने वालो को मोटो Z2 फोर्स आकर्षक लग सकता है।

कौन मोटो Z2 फोर्स खरीदना चाहेगा?असल में, मोटो जेड 2 फोर्स सभी लोगों के लिए तैयार किया गया है। फोन में एक शटरप्रूफ डिस्प्ले है, जो हर दिन गिरने से भी नहीं टूटेगा न ही कोई दरार आएगी। इसके अलावा, मोटो मोड्स का इस्तेमाल आप कई तरीके से अपने अनुभव को बढ़ाने के लिए कर सकते है।

 

कौन OnePlus 5T खरीदना चाहेगा? वनप्लस 5 टी एक ऑलराउंडर फोन है जो सामान्य उपभोक्ताओं के लिए अधिक समझदारी से बनाया गया है। यह फुल-व्यू-डिस्प्ले, बेहतर प्रदर्शन, बेहतर सेल्फी कैमरा, और बेहतर बैटरी और सॉफ्टवेयर अनुभव की तलाश में किसी को भी पूर्ण संतोष देगा।

 

Qualcomm Snapdragon 855: वर्ल्ड का पहला 7nm प्रोसेसर

0

इसी महीने की शुरुआत में, क्वालकॉम ने अपना नया स्नैपड्रगन एक्स24 मॉडेम लांच किया था जो 7nm फैब्रिकेशन प्रोसेस का उपयोग करने वाले दुनिया के पहले चिपसेट के रूप में सामने आया था। विश्वसनीय गैजेट टिपस्टर रोलैंड क्वांडट की रिपोर्ट के अनुसार, क्वालकॉम अपने नयी जनरेशन प्रोसेसर स्नैपड्रगन 855 के निर्माण में नए 7nm मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस का उपयोग कर सकता है।

क्या है 7nm?

7nm, चिप में नोड्स की आधा-पिच माप को बताता है। दूसरे शब्दों में, यदि आप नोड और इसके निकटतम नोड पड़ोसी के बीच की दुरी को मापना चाहते है, और यह मापन 14 नैनोमीटर था, तो 7nm आधी पिच होती है।

स्रोत के अनुसार, क्वालकॉम ने आधिकारिक तौर पर यह अभी तक नहीं बताया है, लेकिन ब्रांड के मैन्युफैक्चरिंग पार्टनर्स का कहना है कि स्नैपड्रैगन 855 दुनिया की पहली 7nm SoC के रूप में आएगा। नए SoC की कंपनी के एक्स -24 एलटीई मॉडेम के साथ आने की भी उम्मीद है, जो 2Gbps LTE गति तक को सपोर्ट कर सकता हैं।

क्वालकॉम स्नैपड्रगन 855 की खासियत (आपेक्षित)

क्वालकॉम का लेटेस्ट फ्लैगशिप प्रोसेसर, स्नैपड्रैगन 845 है जो 10nm Low Power Plus (LPP) फेब्रिकेशन प्रोसेस द्वारा बनाया गया है। यह 10nm Low Power Early प्रोसेस का थोड़ा अपग्रेडेड वर्ज़न है, जिसका उपयोग  स्नैपड्रैगन 835 प्रोसेसर के निर्माण के लिए किया गया था। नए 10nm एलपीपी निर्माण प्रक्रिया द्वारा आपको 10 प्रतिशत बेहतर प्रदर्शन या 15 प्रतिशत कम बिजली खपत की सुविधा मिलती है।

हालांकि, यह देखते हुए कि X24 मॉडेम को 7nm नोड के साथ बनाया गया है, और सैमसंग ने कहा है कि 2019 के आरम्भ में इस तरह के चिपसेट के बड़े पैमाने पर उत्पादन के लिए तैयार हो जाएगा, इसलिए यह कहने में कोई शंका नहीं होनी चाहिए कि स्नैपड्रगन 855 दोनों X24 मॉडेम और 7nm नोड प्रोसेस से लैस होगा।

अभी स्नैपड्रगन 855 प्रोसेसर के बारे में कोई आधिकारिक विविरण उपलब्ध नहीं है। हालाँकि अभी तक की रिपोर्ट्स से पता चलता है की सैमसंग की फाउंड्री बिज़नेस द्वारा पिछले काफी समय से क्वालकॉम चिपसेट को विकसित किया गया है। लेकिन स्नैपड्रगन 855 SoC को ताइवान के टीएसएमसी द्वारा निर्मित की जाने की काफी सम्भावना है। हम यह उम्मीद कर सकते है की स्नैपड्रगन 855 अपने पिछले साथी से अधिक पावर-एफ्फिसिएंट और बेहतर प्रदर्शन करने वाला होगा।

Top 10 Xiaomi Redmi Note 5 Pro Features and Fact That You Should Know

PayTm के CEO ने UPI दिशानिर्देशों के उल्लंघन का WhatsApp Payment पर लगाया आरोप

0

पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा ने व्हाट्सएप पेमेंट के खिलाफ अपना असंतोष जाहिर किया है उनके अनुसार व्हाट्सप्प पेमेंट UPI-नीतियों का पालन नहीं कर रहा है। रिपोर्टस के मुताबिक, श्री शर्मा अब भारत के राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) में व्हाट्सएप पेमेंट के द्वारा अनुचित लाभ उठाने के खिलाफ याचिका दायर करेंगे। NPCI ने ही UPI प्रणाली विकसित की है।(Read In English)

व्हाट्सएप पेमेंट सर्विस, जो अभी भी परीक्षण चरण में है, को लॉग-इन सेशन और आधार-आधारित भुगतान की आवश्यकता नहीं है। शर्मा जी का दावा है कि यह एक बड़ा सुरक्षा जोखिम है जो सभी को एक तरह का “ओपन एटीएम” दे रहा है।

यह भी पढ़े: UPI-आधारित एप्लीकेशनो की तुलना: Whatsapp Payment, Google Tez, Paytm

शर्मा जी ने कहा “फेसबुक खुले तौर पर भारतीय भुगतान प्रणाली को अपने लाभ के अनुसार बदल रहा है जो काफी गलत बात है। यूपीआई को इंडिया स्टैक के रूप में बनाया गया था, लेकिन अब एक अमेरिकन मोनोपोली कंपनी अपने हिसाब से ग्राहकों को लुभाने के लिए UPI प्रणाली को अपने हिसाब से बदल नहीं सकती है।”

उन्होंने आगे कहा, “आप अंडरराइटिंग के नाम पर ऐसे सुरक्षा जोखिम को कैसे दे सकते हैं जो बैंकों ने आपको दिया है? व्हाट्सएप का इस्तेमाल भारतीय उपभोक्ताओं द्वारा किया जाता है, जो इस देश में किसी एप्लीकेशन से कहीं अधिक वैल्यू रखते है। ”

अगर आप व्हाट्सएप का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आपका पैसा अभी भी आपके यूपीआई पिन से सुरक्षित है, लेकिन शर्मा जी के अनुसार, व्हाट्सप्प ने सिर्फ बेहतर इंटरफ़ेस के अनुभव के लिए उपयोगकर्ता की सुरक्षा से समझौता किया है। ”

ऐसा नहीं है, शर्मा ने ट्विटर पर भी एक खुलेआम ट्वीट करके एक ट्वीट-वॉर शुरू किया।

 

हालांकि, यह मुद्दा गंभीर नहीं हो सकता है जितना शर्मा जी बताते हैं।

व्हाट्सएप पेमेंट के बारे में एक इंडस्ट्री एग्जीक्यूटिव ने शर्मा के दावों को खारिज कर दिया है। “एनपीसीआई ने यूपीआई एप्लिकेशन को लॉगिन-सेशन के लिए सलाह दी है, लेकिन यह अनिवार्य नहीं है। ओला और उबेर जैसी यूपीआई की सुविधा का उपयोग करने वाले अन्य एप्लिकेशन में भी लॉगिन-सेशन नहीं हैं। ”

 

ग्लोबल पेमेंट्स कंपनी पेU के भारत प्रमुख अमरीश राव ने कहा, “व्हाट्सएप ने एक अच्छा भुगतान ऐप पेश किया है और अन्य कम्पनियाँ सिर्फ डर फैला रही है।” “ये सिर्फ एक चाल हैं व्हाट्सएप, यूपीआई के लिए सामान्य प्रक्रिया का अनुसरण कर रहा है। फैलाई जा रही अफवाहें डिजिटल इंडिया की मदद नहीं कर रही हैं। ”

विजय शेखर शर्मा के पास एक बिंदु हो सकता है, लेकिन ऐसा रिएक्शन निश्चित रूप से  व्हाट्सप्प पेमेंट से असुरक्षा महसूस करता है। आखिरकार, व्हाट्सएप भारत में 200 मिलियन से अधिक एक्टिव यूजर के साथ सबसे बड़ा मेसेजिंग ऐप है। और एक काफी बड़ी डिजिटल पेमेंट पलटफोर्म के CEO को पब्लिक प्लेटफार्म पर ऐसे रिएक्शन नहीं देने चाहिए।

Xiaomi Mi Mix 2S के स्पेसिफिकेशन और फर्मवेयर लीक: Snapdragon 845 और Android Oreo की हुई पुष्टि

0

लगता है शाओमी Mi Mix 2s अब सिर्फ अफवाह नहीं रह गया है। XDA डेवेलपर्स के सीनियर मेंबर ड्यूरारा(Duraauaa) का शुक्रिया जिन्होंने किसी तरह शाओमी Mi Mix 2s से सम्बंधित जानकारी दी जो Mi Mix 2s फर्मवेयर बताया जा रहा है।(Read in English)

सबसे बड़ी बात इस जानकारी द्वारा Mi Mix 2s के वास्तविक होने की पुष्टि भी होती है। पहले से हुई काफी लीक रिपोर्ट और अफवाहों से पता चलता है की शाओमी ने अपने  Mi Mix 2s को कोड-नेम दिया है -पोलरिस। XDA डेवेलपर्स ने अब इस डिवाइस की पूरी स्पेसिफिकेशन शीट और फीचर का खुलासा किया है।

 

Xiaomi Mi Mix 2S के स्पेसिफिकेशन और फीचर( XDA डेवेलपर्स आधारित)

शाओमी का आगामी बेसेल-लेस्स फोन एक 18:9 FHD+ डिस्प्ले और एक क्वालकॉम के नवीनतम स्नैपड्रैगन 845 मोबाइल प्रोसेसर के साथ आ सकता है। लीक फर्मवेयर इसकी 3,400mAh बैटरी की भी पुष्टि करता है शाओमी की ये नयी डिवाइस एंड्रॉइड ओरेओ-आधारित एमआईयूआई 9 पर रन करेगी ।

यह भी पढ़े: Xiaomi Redmi Note 5 Pro Quick Review (In Hindi)

फ़ोन में  शाओमी कैमरा के साथ AI की सुविधा भी दी जा सकती है जो दृश्यों का पता लगाकर उनमे परिस्थिति के अनुसार बदलाव करके बेहतरीन आउटपुट देगा। बाकि सभी शाओमी डिवाइस की तरह ये भी ड्यूल-सिम और IR ब्लास्टर की सुविधा से लैस होगा।

पहले प्राप्त हुई रिपोर्ट्स के अनुसार Mi Mix 2 के अपग्रेडेड संस्करण में फ्रंट कैमरा डिस्प्लै के ऊपर दिया जा सकता है अगर यह बात सच साबित होती है तो यह काफी अच्छा बदलाव होगा सेल्फी लवर्स लिए। शाओमी अपने एमआई मिक्स 2s को आगामी MWC 2018 में पेश करेगी।

Top 10 Smartphones Expected to Launch in February 2018

Nokia 6 का 4GB रैम और 64GB स्टोरेज संस्करण भारत में हुआ लांच:जाने कीमत, स्पेसिफिकेशन और उपलब्धता

0

एचएमडी ग्लोबल ने अपने नोकिया 6 को नए रूप में नए विकल्प के साथ लांच कर दिया है। कंपनी ने अपनी मध्य-श्रेणी की डिवाइस को 4GB रैम और 64GB स्टोरेज (3GB रैम/32GB इनबिल्ट स्टोरेज से बढ़ा कर) के साथ अपग्रेड किया है और नया नोकिया 6-संस्करण फ्लिपकार्ट पर 20 फरवरी से भारत में 16,999 रुपए की कीमत पर उपलब्ध होगा और यह सीधे रेडमी नोट 5 प्रो के साथ टक्कर लेगा।(Read in English)

नोकिया द्वारा अपने एक पुराने फ़ोन को अपग्रेड करने लांच करना थोड़ा हैरान करने वाला है। क्योकि नोकिया 6 (2017) की नयी पीढ़ी नोकिया 6 (2018) के 25 फरवरी को एचएमडी ग्लोबल लॉंच इवेंट में विश्व स्तर पर लॉन्च होने की संभावना है।

यह भी पढ़े:शैटर-प्रूफ Moto Z2 Force हुआ लॉन्च:जाने मूल्य और सुविधाएँ

Nokia 6, 4GB रैम संस्करण के फीचर

रैम और स्टोरेज में बदलाव के अलावा, 4GB नोकिया 6 स्पेसिफिकेशन में 3GB-संस्करण के ही सामान है। हैंडसेट में कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास प्रोटेक्शन और फ्रंट-माउंट फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ फ्रंट पर 5.5 इंच का पूर्ण-एचडी डिस्प्ले दी गयी है।

नोकिया 6 की अन्य विशेषताओं में स्नैपड्रैगन 430 चिपसेट, 16 मेगापिक्सल का रियर कैमरा, 8 मेगापिक्सेल फ्रंट कैमरा, 3000mAh बैटरी और स्टॉक एंड्रॉइड नोगाट यूआई शामिल हैं। इसके अलावा कनेक्टिविटी के विकल्प के रूप में 4G VoLTE, वाईफाई, ब्लूटूथ, जीपीएस, यूएसबी ओटीजी, एनएफसी, और 3.5mm ऑडियो जैक शामिल हैं।

एचएमडी ग्लोबल के वाइस-प्रेजिडेंट अजय मेहता ने कहा,”नोकिया 6 अभी तक काफी अपने अनगिनत प्रशंषको द्वारा डिज़ाइन, टिकाऊपन और फीचर्स की प्रशंसा की वजह से काफी सफल फ़ोन बन कर उभरा है। नोकिया 6 के अनुभव को एक नए लेवल पर ले जाने के लिए हम इस बेहतरीन फ़ोन का अपग्रेडेड वर्ज़न 4GB रैम के साथ लांच कर रहे है। ”

Nokia 6 के 4 जब वर्ज़न की कीमत और उपलब्धता

नोकिया 6 के 4GB रैम संस्करण की कीमत भारत में 16,999 रुपए रखी गयी है और यह मैट ब्लैक रंग में उपलब्ध होगा। यद्यपि डिवाइस 20 फरवरी को बिक्री पर जायेगा, लेकिन रुचि रखने वाले उपयोगकर्ता आज से फ्लिपकार्ट पर बिक्री के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

लॉन्च ऑफ़र के रूप में, नोकिया 6 (4GB) पर पुराने फ़ोन से एक्सचेंज करने पर 2000 रुपए की अतिरिक्त छूट भी प्राप्त होगी।

Nokia 6 4GB रैम संस्करण का विवरण

मॉडल Nokia 6
डिस्प्ले 5.5-इंच FHD IPS LCD डिस्प्ले, 2.5D Curved Glass, गोरिल्ला ग्लास 3 प्रोटेक्शन
प्रोसेसर 1.4GHz ओक्टा-कोर स्नैपड्रगन 430 प्रोसेसर
रैम 4GB
आंतरिक स्टोरेज 64GB (मेमोरी कार्ड स्लॉट 256GB  )
सॉफ्टवेयर एंड्राइड नोगट 7.1.1
प्राथमिक कैमरा 16 MP, f/2.0, PDAF, dual tone flash
सेकेंडरी कैमरा 8MP Front facing camera, f/2.0 aperture
बैटरी 3,000mAh
अन्य 4G/VoLTE, ब्लूटूथ 4.1, जीपीएस, USB OTG, NFC, 3.5mm Audio Jack
कीमत 16,999 रुपये

 

Top 10 Smartphones Expected to Launch in February 2018

शैटर-प्रूफ Moto Z2 Force हुआ लॉन्च:जाने मूल्य और सुविधाएँ

0

लेनोवो इंडिया ने साल 2018 की शुरआत 15 फरवरी को भारत में शैटर-प्रूफ मोटो ज़ेड2 फोर्स के साथ की है। यह बिल्कुल नयी डिवाइस नहीं है, क्योंकि यह पहली बार अगस्त 2017 में विश्व स्तर पर घोषित की जा चुकी है।(Read in English)

मोटो ज़ेड2 फोर्स को भारत में टर्बो पावर पैक मॉड के साथ लॉच किया जाएगा। बैटरी मोड में 3500mAh की बैटरी दी है जिसमे 15W फास्ट चार्जर इन-बिल्ट है। कंपनी के दावे के मुताबिक, यह आपके फोन की बैटरी को सिर्फ 20 मिनट में 50% चार्ज कर सकता है।

Moto Z2 Force के फीचर

मोटो ज़ेड2 फोर्स की सबसे बड़ी हाइलाइट इसकी शैटर-शील्ड स्क्रीन होगी। Z2 फोर्स ने 16:9 रेश्यो की 5.5-इंच क्वाड एचडी (1440 x 2560) POLED शैटर-शील्ड डिस्प्ले दिया है। यह 7000-श्रृंखला एल्यूमीनियम से बनी एक यूनिबॉडी डिजाइन का दावा करता है। फोन का वजन 143 ग्राम है और माप 76 x 155.8 x 6.1 मिमी है।

Z2 फोर्स को प्रभावशाली क्वालकॉम 2.35GHz स्नैपड्रगन 835 द्वारा संचारित किया जाता है जो आपको 6GB रैम और 64GB की इंटरनल स्टोरेज के विकल्प के साथ मिलता है। इसमें माइक्रो-SD कार्ड स्लॉट भी दिया गया है जो 2TB तक का मेमोरी कार्ड सपोर्ट करता है।

मोटो अपने कैमरा को लेकर काफी आश्वस्त है क्योकि मोटो Z2 फाॅर्स में रियर साइड में 12MP+12MP सोनी आईएमएक्स 386 f/2.0 के एपर्चर के साथ ड्यूल कैमरा सेटअप दिया गया है। ड्यूल कैमरा सेंसर में एक सेंसर आरजीबी सेंसर है जबकि दूसरा एक मोनोक्रोम सेंसर है। कैमरे में फेज डिटेक्शन ऑटो फोकस (पीडीएएफ), लेजर ऑटो फोकस और रेगुलर LED फ़्लैश भी दी गयी है। यह 30-एफपीएस पर 4K वीडियो और 30 एफपीएस पर 1080p वीडियो को भी सपोर्ट करता है। फ्रंट साइड में, 5MP का वाइड-एंगल लेंस f/2.2 के एपर्चर रेट के साथ दिया गया है।

यह भी पढ़े: Xiaomi Mi TV 4 55-इंच 4K-HDR टीवी भारत में लांच:जाने मूल्य और स्पेसिफिकेशन

मोटो Z2 फोर्स में कनेक्टिविटी ऑप्शंस के रूप में 4G LTE, ड्यूल-बैंड वाई-फाई 802.11ac, एनएफसी, जीपीएस/ए-जीपीएस, यूएसबी टाइप-सी पोर्ट और ब्लूटूथ 4.2 ( ब्लूटूथ 5.0 के लिए अनुकूल) शामिल हैं। यह एंड्रॉइड ओरेओ अपडेट के साथ आता है। डिवाइस में एक 2730mAh बैटरी दी गयी है, जो कि कंपनी के दावों के अनुसार सामान्य उपयोग पर एक दिन तक का बैकअप दे सकती है।

Moto Z2 Force की कीमत और उपलब्ध्ता

मोटो ज़ेड 2 फोर्स का लॉन्च प्राइस रु 34,999 है जो इसे सैमसंग गैलेक्सी ए8+, वनप्लस 5टी और शाओमी मी मिक्स 2 के साथ एक ही लीग में जगह देता है। यह सुपर ब्लैक रंग में पेश किया गया है और फ्लिपकार्ट और मोटो हब स्टोर्स में 16 फरवरी से उपलब्ध होगा।

Moto Z2 Force का विवरण

  • 5.5-इंच Quad HD POLED शैटर-प्रूफ डिस्प्ले
  • 2.45GHz ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 835 SoC Adreno 540 जीपीयू के साथ
  • 6GB रैम, 64GB स्टोरेज, माइक्रो एसडी के साथ 2TB तक विस्तार
  • एंड्रॉइड 8.0 (ओरेओ)
  • हाइब्रिड ड्यूल सिम (नैनो + नैनो/माइक्रोएसडी)
  • ड्यूल रियर कैमरे (मोनोक्रोम + कलर) ड्यूल टोन एलईडी फ्लैश के साथ, सोनी आईएमएक्स 386 सेंसर, f/2.0 एपर्चर, 1.25µm पिक्सेल साइज, पीडीएएफ, लेजर ऑटो फोकस, 4k वीडियो रिकॉर्डिंग
  • ड्यूल टोन एलईडी फ्लैश के साथ 5MP फ्रंट कैमरा, एफ/2.2 एपर्चर, 85 डिग्री वाइड एंगल लेंस
  • फिंगरप्रिंट सेंसर
  • वाटर रेपेलेंट नैनो-कोटिंग
  • फ्रंट-पोर्ट लाउडस्पीकर
  • माप: 76 x 155.8 x 6.1 मिमी; वजन: 143 ग्राम
  • 4G VoLTE, वाईफ़ाई 802.11 एसी (2.4 और 5 गीगाहर्ट्ज) एमआईएमओ, ब्लूटूथ 5.0, जीएलओएनएसएस, एनएफसी, यूएसबी टाइप-सी के साथ जीपीएस
  • टर्बो चार्जिंग के साथ 2730mAh बैटरी

This Is What Samsung’s Full-screen Display Phone Could Look Like